25 मई से शुरू होंगी घरेलू उड़ानें, सोशल डिस्टेंसिंग नियमों के साथ मिली इजाजत

25 मई से शुरू होंगी घरेलू उड़ानें, सोशल डिस्टेंसिंग नियमों के साथ मिली इजाजत

देशभर में घरेलू उड़ानों की सेवा 25 मई से शुरू हो जाएगी. नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी. लॉकडाउन के कारण राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर पाबंदी लगी हुई है. हाल ही में सरकार ने रेल सेवा की फिर से शुरुआत की और अब घरेलू उड़ानें भी 25 मई यानी सोमवार से शुरू होंगी. हरदीप पुरी ने कहा कि सोमवार 25 मई 2020 से घरेलू उड़ानें शुरू हो जाएंगी. सभी एयरपोर्ट और एयरलाइन कंपनियां 25 मई से उड़ानें शुरू करने के लिए तैयार रहें. यात्रियों के लिए SOP भी जारी किया जा रहा है.

बता दें कि इससे पहले नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने मंगलवार को एक ट्वीट कर कहा था कि हवाई सेवा शुरू करने की जिम्मेदारी केंद्र के साथ-साथ राज्यों की भी है. उन्हें भी इसके लिए तैयार होना होगा.

गौरतलब है कि 25 मार्च से देश में जारी लॉकडाउन के समय से ही उड़ानों पर पाबंदी लगी है. लॉकडाउन का चौथा चरण 31 मई तक होगा. सरकार की ओर से धीरे-धीरे ज्यादातर पाबंदियां खत्म की जा रही हैं. रेलवे ने मंगलवार को 200 नॉन-एसी ट्रेनें चलाने का फैसला लिया है. ये ट्रेनें 1 जून से टाइम टेबल के अनुसार प्रतिदिन चलेंगी.

 हरदीप पुरी बोले- घरेलू उड़ानें शुरू करने की तैयारी पूरी, SOP में होगा बदलाव

बता दें कि सरकार की तरफ से इसको लेकर अभी निर्देश जारी किया गया है. हालांकि कई एयरलाइंस ने 1 जून से हवाई टिकट की बुकिंग शुरू कर दी है. एयरलाइंस पहले भी ऐसा कर चुकी हैं. लॉकडाउन के चौथे चरण में भी प्लेन, ट्रेन, मेट्रो के संचालन पर पूरी तरह से पाबंदी है. लेकिन अब इसे धीरे-धीरे खोला जा रहा है. बता दें कि देश में हर रोज करीब 6500 घरेलू उड़ानें होती हैं और हर साल 144.17 मिलियन पैसेंजर्स सफर करते हैं.

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने e-एजेंडा आजतक में शिरकत करते हुए कहा था कि लॉकडाउन के खुलने के बाद सरकार के फैसला लेते ही हम घरेलू उड़ान शुरू कर देंगे. इसके लिए हमारी तैयारी पूरी है और हम निजी एयरलाइंस को भी कर रहे हैं कि आप अपनी तैयारी पूरी रखें. हालांकि उन्होंने ये बयान लॉकडाउन 4.0 लागू होने के पहले दिया था.

कार्यक्रम में हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी सिविल एविएशन मार्केट है, ऐसे में घरेलू उड़ानें शुरू होते ही इस इंडस्ट्री के जल्द ही पटरी पर आने की उम्मीद है. उन्होंने कहा कि घरेलू उड़ान शुरू होते ही हमें अपने तरीके में बदलाव करना होगा यानी SOP में बदलाव हो सकता है. उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि बोर्डिंग पास घर से प्रिंट करके लाना होगा. शुरू में एक बैग लेकर चलना पड़ेगा, समय से पहले आना होगा और रिफ्रेशमेंट आदि पर पाबंदी लगानी पड़ सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *