अभिभावकों की बढ़ी मुश्किलें, खट्टर सरकार ने प्राइवेट स्कूलों को दी फीस वसूलने की इजाजत

private school fees 13 april

फरीदाबाद, 13 अप्रैल: सरकारी स्कूलों की हालत सब जानते हैं इसलिए मजबूरी वश लोग मोटी फीस देकर अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में पढ़ाते हैं, अब लॉक डाउन की वजह से सबका काम धंधा बंद हो गया है, लॉक डाउन खुलने के बाद भी लोगों को बहुत दिक्कत होने वाली है क्योंकि सबको अपना काम धंधा नए सिरे से शुरू करना पड़ेगा।
ऐसे में खट्टर सरकार ने जनता की मुश्किलें बढ़ा दी हैं, खट्टर सरकार ने पहले तो आर्डर दिया कि प्राइवेट स्कूल लॉक डाउन के दौरान फीस ना वसूलें, खट्टर सरकार का यह आर्डर देखकर जनता को थोड़ा सुकून हुआ था लेकिन 12 अप्रैल को अचानक खट्टर सरकार ने प्राइवेट स्कूलों को फिर से फीस वसूलने की इजाजत दे दी.

इतनी राहत जरूर दी गयी है कि प्राइवेट स्कूल तीन महीनें की फीस एक बार ना वसूलकर मंथली फीस वसूलेंगे, एक राहत यह भी है कि जब तक स्कूल बंद रहेंगे प्राइवेट स्कूल वाले ट्रांसपोर्ट फीस नहीं वसूल सकेंगे। यह भी कहा गया है कि अगर कोई अभिभावक लॉक डाउन के दौरान आर्थिक समस्या की वजह से फीस ना दे सके तो उसके बच्चे का स्कूल से नाम ना काटें और ना ही ऑनलाइन क्लास से वंचित करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *